• न्यूज की न्यूज डेस्क.

क्या अब गांवों में नहीं घुस पाएंगे भाजपा-जजपा के नेता, लोगों की सरकार से नाराजगी क्यों बढ़ रही?

हरियाणा की जनता में भाजपा-जजपा की गठबंधन सरकार को लेकर नाराजगी लगातार बढती जा रही है। प्रदेश में के कई गांवों में तो स्थिति इस तरह की बन रही है कि वहां इन दोनों पार्टियों के नेता एंट्री ही नहीं कर सकते। जहां जाते हैं तो लोग काले झंडे दिखा देते हैं।

दरअसल, जब से केंद्र सरकार ने किसान बिल पास किए हैं तभी से किसान सरकार के विरोध में हैं। लेकिन हरियाणा के पिपली में किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद हरियाणा में भाजपा और जजपा ने नेताओं को लेकर लोगों की नाराजगी लगातार बढती ही जा रही है। हरियाणा के दर्जनों गांव ऐसे हैं जहां लोगों ने बाहर बैनर लगा दिए हैं कि इस गांव में भाजपा और जजपा ने नेताओं की एंट्री पर रोक है। इसके बावजूद कुछ नेता लोगों से बात करने के लिए जा रहे हैं तो उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं नेताओं को ग्रामीण काले झंडे दिखाकर वापिस लौटा रहे हैं। पिछले दिनों कुरुक्षेत्र से सांसद नायब सैनी और पूर्व मंत्री कर्णदेव काम्बोज के साथ कुछ इसी तरह की घटना हुई थी। वहीं सिरसा की सांसद सुनीता दुग्गल को भी लोग काले झंडे दिखा चुके हैं।

ऐसे में अब बड़ा सवाल यह भी है कि किसानों के अंदर चल रहे इस विरोध का बरौदा उपचुनाव पर कितना बड़ा असर होगा। अगर वहां भी लोगों ने भाजपा और जजपा के नेताओं को गांवों में नहीं आने दिया तो भाजपा बैठे बिठाए ही चुनाव हार जाएगी। ऐसे में इसका समाधान भाजपा को समय रहते निकालना पड़ेगा। #bjp #jjp #bjpjjp #bjpharyana #haryananews #politicalnews #latestnews #newskinews #haryana #nayabsaini #sunitaduggal #pipli #farmer

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com