• न्यूज की न्यूज डेस्क.

उड़ता पंजाब सिंगर शाहिद माल्या बोले : म्यूजिक इंडस्ट्री में ग्रुपबाजी का बोलबाला

Updated: Jul 22, 2020

शाहिद कहते हैं कि बॉलीवुड में सिंगर्स की कमाई का एक मुख्य साधन स्टेज कॉन्सर्ट होते हैं लेकिन जब से कोरोना काल शुरु हुआ है तब से सिंगर्स की इस कमाई पर रोक लग गई है.




शाहिद माल्या सिंगिंग की दुनिया का एक ऐसा नाम है जिसने पिछले 10 सालों में हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को कई बेहतरीन गाने दिए हैं. चाहे फिल्म "उड़ता पंजाब" का 'इक कुड़ी' हो या फिल्म "स्टूडेंट ऑफ द ईयर" का 'कुक्कड़' सॉन्ग हो. शाहिद के हिट गानों की लिस्ट काफी लम्बी है. लेकिन कोरोना के चलते जहां पूरी बॉलीवुड इंडस्ट्री के काम पर असर पड़ा है वहीं सिंगिंग फील्ड पर भी इसका असर साफ देखा जा सकता है. शाहिद माल्या ने इस बारे में अपना दर्द आज तक के साथ शेयर किया.


“शाहिद माल्या ने बताया, "एक्टिंग फील्ड की तरह सिंगिंग फील्ड में नेपोटिज्म तो नहीं लेकिन हमारी फील्ड में कुछ लोगों की मोनोपोली जरुर है. जिसके चलते कुछ लोग चुने हुए लोगों का ग्रुप बनाकर उनके साथ काम करना ही पसंद करते हैं. इससे बाकी सिंगर्स को उनके साथ काम करने का मौका नहीं मिलता है.”

शाहिद कहते हैं कि बॉलीवुड में सिंगर्स की कमाई का एक मुख्य साधन स्टेज कॉन्सर्ट होते हैं लेकिन जब से कोरोना काल शुरु हुआ है तब से सिंगर्स की इस कमाई पर रोक लग गई है. क्योंकि जिस शो को पहले सिंगर्स 10 रुपये में करते थे अब उन्हे वही शो घर बैठे ऑनलाइन 1 रुपये में करना पड़ रहा है. शाहिद आगे कहते हैं कि एक तरफ जहां सिंगर्स को लाइव कॉन्सर्ट के लिए पैसे कम मिल रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ उन्हे वो सुकून भी नहीं मिल रही है जो उन्हे दर्शकों के सामने परफॉर्म करने पर मिलता है.


पंजाबी वीडियो सॉन्ग पर फोकस


हर साल की तरह ही इस साल भी शाहिद माल्या के कई सारे फिल्मी सॉन्ग रिलीज होने वाले थे जो कोरोना के चलते फंसे हुए हैं इसलिए फिलहाल के लिए शाहिद माल्या फिल्मी गानों की बजाए पंजाबी वीडियो सॉन्ग पर फोकस कर रहे हैं और अभी हाल ही में उनके 2 पंजाबी वीडियो सॉन्ग रिलीज हुए हैं जिन्हे दर्शकों का बेहद प्यार भी मिला है और अब जल्द ही शाहिद अपना तीसरा म्यूज़िक वीडियो भी दर्शकों के बीच लाने वाले हैं.

2 views