• न्यूज की न्यूज डेस्क.

सीएम के गोद लिए गांव का यह फोटो देखकर आपका इस गोदी योजना से विशवास उठ जाएगा, जानिए क्यों?

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल के गोद लिए गांव क्योड़क की गलियों में कीचड़ भरा हुआ है। पब्लिक हेल्थ विभाग की ओर से गांवों की गलियों में सीवरेज लाइन बिछाई जा रही हैं लेकिन उखाड़ी गलियों की अभी तक कोई सुध नहीं ली। इससे ग्रामीणों को परेशानी हो रही है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि सीएम के गोद लिए गांव की तस्वीर ऐसी है तो प्रदेश के दूसरे गांवों के हालात कैसे होंगे।

मनोहर लाल ने पहली बार मुख्यमंत्री बनने के एक साल बाद ही आदर्श ग्राम योजना के तहत गांव क्योड़क को गोद लिया था और वर्ष 2015, 2016 में गांव के विकास के लिए कई घोषणाएं की हुई हैं। लेकिन उनमें से अभी भी आधी पेंडिंग हैं। करीब 25 हजार की आबादी वाले गांव में सीएम घोषणा के मुताबिक सभी गलियों में सीवरेज पाइप लाइन बिछाई जा रही है। पब्लिक हेल्थ अधिकारियों के मुताबिक गांव की 10 फीट से चौड़ाई वाली सभी गलियों में पाइप लाइन बिछाई गई है। करीब 10 करोड़ की राशि से गांव में करीब 42 किलोमीटर सीवरेज लाइन बिछाई जा रही है। इसका अधिकतर कार्य पूरा हो चुका है, लेकिन करीब एक से डेढ़ साल पहले उखाड़ी गई गलियों में पैचवर्क तक नहीं किया जा सका है। विभाग ने उखाड़ी गलियों को पैचवर्क के लिए करीब 98 लाख रुपए का प्रपोजल सरकार को भेजा हुआ है। अधिकारियों का दावा है कि इसकी मंजूरी मिल चुकी है जल्द ही लिखित स्वीकृति लैटर भी आ जा एगा। ग्रामीण सेठपाल, सत्यवान, रमेश आदि का कहना है कि गांव में गलियों में निकलने का रास्ता ही नहीं है।


पिछले डेढ़ साल से यही हालात : क्योड़क गांव में छोटी मोटी करीब 350 गलियां हैं। गांव की सभी गलियों में सीवरेज लाइन बिछाकर ग्रामीणों को शहर की तर्ज पर सुविधाएं देने की योजना है। करीब डेढ़ साल से गांव में सीवरेज लाइन बिछाई जा रही हैं, लेकिन अभी तक एसटीपी का निर्माण नहीं क राया गया है। इसके अलावा कोटिकूट तीर्थ का जीर्णोद्धार, लाला लाजपत राय पशु विज्ञान अनुसंधान केंद्र का कार्य भी अभी पूरा नहीं हो पाया है। हालांकि सीएम के संज्ञान में जब ये मामला आया तो उन्होंने स्थानीय विधायक लीलाराम को निर्देश दिए कि वे क्योड़क गांव में जाकर विकास कार्यों का जायजा लें और अधिकारियों से जल्द से जल्द अधूरे पड़े कार्य कराए जाएं। सीएम के निर्देश पर विधायक लीलाराम संबंधित अधिकारियों के साथ गांव में पहुंचे और अवलोकन कर जल्द से जल्द विकास कार्य पूरा करने को कहा।  विधायक लीलाराम की मौजूदगी में अधिकारियों ने सुझाव दिया कि पब्लिक हैल्थ विभाग द्वारा उखाड़ी गई गलियों का पैचवर्क किया जाना है। जबकि ग्रामीणों के मुताबिक गलियों में ब्लॉक्स धंस गए हैं और जगह जगह गड्ढे बने हैं। ऐसे में गलियों को दोबारा से समतल कर नए सिरे से निर्माण करना चाहिए। अधिकारियों ने भी ग्रामीणों की इस बात पर सहमति जताई और नया प्रस्ताव लाने पर सहमति बनी है।

- खैर ये गांव तो सीएम की गोदी में बैठा है इसलिए शायद हालात ठीक हो जाएंगे लेकिन बाकी गोदी गांवों की कब कौन सुध लेगा इसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता। #kyodak #kaithal #village #street #cmviilage #cmofharyana #manoharlaal #haryananews #latestnews #newskinews

32 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com