• न्यूज की न्यूज डेस्क.

रिव्यू - तालिबान के कानून की तरह सपना चौधरी का ताबिलान गाना भी समझ नहीं पाए लोग

सपना चौधरी और अमित ढुल का नया गाना रिलीज हुआ है जिसका नाम - तालिबान. यू-ट्यूब पर गाना रिलीज तो हो गया है लेकिन अपनी छाप छोड़ने में सफल नहीं रहा, लोगों के कमेंट देखकर लग रहा है कि ल्गोनो को गाना पसंद नहीं आया. आइए बताते हैं कैसा है या ये गाना.

लिंक -https://youtu.be/04UanHE_9V8

गाने का नाम- तालिबान। रिलीज डेट - 7 अगस्त लेबल - जेम ट्यून्स। लेखक - नवीन विशु।

गायक - अमित ढुल।

म्यूजिक - जेम ट्यून्स। निर्देशन - अमित चौधरी।

एक्टिंग - सपना चौधरी, अमित ढुल। गाने के बोल - हरियाणे मैं लगवावैगी कानून तालिबान का...गाने की थीम - कॉलेज में आशिकी।

क्या सही क्या क्या गलत - - गाने के लिरिक्स कमजोर हैं, नवीन विशु लिरिक्स को एक माला में पिरो नहीं पाए, इधर-उधर भाग रहे हैं। - गाने का म्यूजिक और भी कमजोर है, लगता है किसी ने पहली बार म्यूजिक दिया हो। - वीडियो थोडा अच्छा है, इसका कारण है सपना चौधरी की एक्टिंग और अमित चौधरी का निर्देशन. - थीम है कॉलेज की आशिकी, लेकिन थीम के अनुसार गाना ही नहीं बना है, इस तरह की थीम पर सॉफ्ट लाइनें होनी चाहिएं थी लेकिन इसको भटका कर कहीं तालिबान की तरफ ले गए. - गाने का कंसेप्ट तालिबान वाला तो किसी के समझ में ही नहीं आ रहा, जैसे लोगों को नहीं पता कि तालिबान के कानून में क्या होता है ऐसे ही गाने में भी पता नहीं चल रहा. - गाने को अमित ढुल ने अच्छा गाने का प्रयास किया है लेकिन कमजोर लिरिक्स और कमजोर म्यूजिक सब खराब कर रहा है. - ओवरऑल गाना काफी कमजोर है और यू-ट्यूब पर भी लोगों को पसंद नहीं आ रहा है. शुरूआती 6 घंटे में 50 व्युव्ज भी गाने को नहीं मिल पाए, एक तरह से सपना चौधरी का का होना भी गाने के लिए काम नहीं आया. रेटिंग - लिरिक्स - 5 में से 2 म्यूजिक - 5 में से 1.5 सिंगिंग - 5 में से 3 थीम फ्लो - 5 में से 2 वीडियो - 3 कंसेप्ट, स्टोरी - 5 में से 2 ओवरऑल - 5 में से 2

रिव्यू कैसा लगा कमेंट में जरूर बताएं।

20 views