• न्यूज की न्यूज डेस्क.

11 सैनिटाइजर ब्रांड के सैंपल फेल, एफआईआर दर्ज, जानिए कहां से कितने हुए फेल?

हरियाणा में 11 सैनिटाइजर ब्रांड के सैंपल फेल होने पर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई की गई है। स्वास्थ्य एवं गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश के विभिन्न जिलों से एकत्र किए गए सैनिटाइजर के सैंपल फेल होने के कारण 11 सैनिटाइजर ब्रांड के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। संबंधित ब्रांड का लाइसेंस रद्द या निलंबित करने का नोटिस जारी किया है।


हरियाणा के खाद्य एवं औषध प्रशासन द्वारा 248 सैंपल एकत्र किए गए थे, जिनमें से 123 की रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें से 109 सैंपल पास हुए है, जबकि 14 सैंपल फेल पाए गए हैं। इनमें 9 ब्रांड की गुणवत्ता ठीक नही पाई गई, जबकि 5 में मैथेनॉल की अधिकता पाई गई है, जो एक विष का काम करता है। फेल ब्रांड सैनिटाइजर का पूरा स्टॉक मार्केट से वापस लाने के निर्देश दिए हैं, ताकि लोगों को किसी प्रकार का नुकसान न हो सके।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कैथल की दो कंपनियों के सैंपल फेल पाए गए। करनाल की एक कंपनी के 9 नमूने फेल मिले, जिनमें शरीर के लिए हानिकारक मैथेनॉल की अधिकता पाई गई। हिसार से दो ब्रांड भी गुणवत्तापरक नहीं पाए गए हैं। इनके खिलाफ पुलिस में केस दर्ज करा दिया है और उचित कार्रवाई के लिए नोटिस जारी कर दिया है।

कोरोनाकाल शुरू होते ही बाजार में नकली सैनिटाइजर बिकने की शिकायत प्राप्त हुई थी, जिसके चलते खाद्य एवं औषध प्रशासन को हरियाणा के जिलों में छापेमारी करने के निर्देश दिए गए थे। इससे प्रशासन द्वारा 6 से 8 मार्च तक सभी जिलों में छापेमारी की और 158 सैंपल एकत्र किए गए। 22 मई को भी राज्य के विभिन्न भागों से 90 सैंपल एकत्र किए गए।

6 views