• न्यूज की न्यूज डेस्क.

गुरमीत राम रहीम ने फिर लिखी चिट्ठी,पढिए डेरे की गुटबाजी पर क्या लिखा

रोहतक के सुनारिया जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम ने एक बार फिर अपनी मां और समर्थकों के नाम चिट्ठी लिखी है। गुरमीत राम रहीम ने पत्र में मां को कोरोना को लेकर कई सलाहें दी हैं और सावधानी बरतने को कहा है। उसने जेल से आकर मां को इलाज कराने का भरोसा दिलाया है। गुरमीत डेराप्र‍ेमियों से कोरोना पर सरकार के निर्देशोें का पूरा पालन करने को कहा है।

गुरमीत राम रहीम दाे साध्वियों से दुष्‍कर्म व रामचंद्र छत्रपति हत्‍याकांड में रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहा है। गुरमीत ने करीब दो महीने और 11 दिनों के बाद अपनी मां व डेरा की संगत के नाम दूसरा पत्र लिखा है। डेरा सच्चा सौदा प्रबंधन ने इस सोशल मीडिया पर वायरल किया है। इस पत्र में डेरा प्रमुख ने कोरोना से बचने के लिए मास्क लगाने व सात फीट की दूरी रखने की नसीहत दी है।

गुरमीत राम रहीम ने इसके साथ ही डेरा प्रबंधन को लिखा है कि सरकार ब्लड डोनेट करने को कहें तो ब्लड डोनेट करें। डेरा प्रमुख गुरमीत ने लिखा है कि गुरु के रूप में संसार की भलाई के लिए प्रार्थना करते थे और ताउम्र करते रहेंगे। डेरा में किसी तरह की गुटबाजी से इन्‍कार करते हुए लिखा कि खुशी है कि हमारे बच्चे जसमीत, चरणप्रीत, हनीप्रीत व डेरा के सेवादार आज भी एक हैं। डेरा सच्‍चा सौदा मेें किसी तरह की कोई गुटबाजी नहीं है। अगर कोई किसी की निंदा करता है और खुद को हमारा शिष्य बताता है तो यह गलत है। ऐसा करने वाला हमारा शिष्य नहीं हो सकता।

पत्र की शुरूआत में गुरमीत राम रहीम ने मां नसीब कौर को समय पर दवाइयां लेने को कहा है। गुरमीत ने लिखा है कि परमात्मा ने चाहा तो वह जल्दी आकर उसका इलाज करवाएगा। सुनारिया जेल से यह चिट्टी 25 जुलाई को भेजी गई है। मंगलवार शाम को यह चिट्टी सोशल मीडिया पर खूब वायरल रही।

इससे पहले डेरा प्रमुख राम रहीम ने 14 मई को भी पत्र लिखा था, जिसमें उसने डेरा अनुयायियों को कोरोना से बचने के लिए काढ़ा पीने का आह्वान किया था। आज वायरल पत्र में गुरमीत राम रहीम ने लिखा है कि उसने 14 मई के पत्र में जिस तरह का काढ़ा बनाकर पीने को कहा था उसको अभी भी प्रयोग करें।

9 views