• न्यूज की न्यूज डेस्क.

ऐसा क्या हुआ कि टीचरों ने सरकार से इच्छामृत्यु का अधिकार मांगा

लघु सचिवालय के बाहर चल रहे धरना प्रदर्शन में हरियाणा शारीरिक शिक्षकों ने जोरदार नारेबाजी करते हुए बहाल किए जाने की मांग की। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व जिला प्रधान दिलबाग जांगड़ा कर रहे थे। इस दौरान खाप प्रतिनिधि रंगीराम ने सरकार को चेताते हुए 3 अगस्त तक का अल्टीमेटम दिया। उन्होंने कहा कि अगर सरकार ने वर्ष 2010 में लगे शारीरिक शिक्षकों को बहाल नहीं करती है तो उन्हें इच्छामृत्यु का अधिकार प्रदान करे। सरकार हरियाणा शारीरिक शिक्षकों के साथ भेदभावपूर्ण रवैया अपनाए हुए है।

सुखदेव सिंह पूर्व सचिव सर्व कर्मचारी संघ, जय प्रकाश परमार पूर्व जिला प्रधान सर्व कर्मचारी, अतर सिंह मलिक हसला ने कहा कि हरियाणा शारीरिक शिक्षक लगातार अपनी सेवाएं दे रहे थे लेकिन सरकार ने उनके साथ धोखा किया जिसकों कर्मचारी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं कर सकता है। सरकार उनकी बहाली के लिए कोई ना कोई रास्ता निकाले जिससे ये फिर से विभाग की सेवा कर सके। सरकार का काम नौकरी देना होता है न कि छीनना। ऐसा पहली बार और इस सरकार में हुआ है। जो अत्यंत ही दूर्भागयपूर्ण है।


टैंट, बांस चोरी : रोहतक, लघु सचिवालय के बाहर 45 दिन से धरने पर बैठे बर्खास्त पीटीआई की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही। पहले नौकरी गई और अब जब नौकरी बहाली के लिए धरना-प्रदर्शन करने लगे तो किसी ने बांस व टैंट चोरी कर लिया। संघर्ष समिति के प्रवक्ता महावीर सिंह सैनी ने आरोप लगाया कि लघु सचिवालय के बाहर धरना स्थल से पिछली 2 रातों से 3 टैंट और बांस चोरी हो गये। वहां उपायुक्त कार्यालय, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, पुलिस लाइन सहित पूरा जिला प्रशासन बैठता है। साथ ही पुलिस अधीक्षक व उपायुक्त निवास है। साथ ही सोनीपत स्टैंड सीसी कैमरे लगे हुए हैं उसके बावजूद धरना स्थल से गायब टैंटों और बांस का पता नहीं चल सका है। महावीर सिंह सैनी ने बताया कि आज धरने पर राष्ट्रीय गान गाकर धरने पर चार पीटीआई विकास शर्मा, अशोक, जगमिन्दर बल्हारा व संदीप देशवाल को जगरोशन डीपीई व आनन्द पीटीआई ने फूल मालाएं पहनाकर विधिवत क्रमिक अनशन पर बैठाया। आज धरना स्थल पर धरने कि अध्यक्षता रमेश सिंधु व आशा पीटीआई ने की।

सिरसा, सरकार द्वारा नौकरी से निकाले गए जिला के पीटीआई शिक्षकों का आंदोलन बुधवार को 45वें दिन में प्रवेश कर गया है। बुधवार को क्रमिक अनशन पर भूपेंद्र पीटीआई, संतोष, उषा, सुमन व रोशनी बैठे। धरने को संबोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ के सरंक्षक शिव कुमार शर्मा ने कहा कि अगर सरकार पीटीआई के मामले में शीघ्र कोई फैसला नहीं लेती है तो हम इस धरने को और तेज करेंगे तथा निर्णायक मोड़ तक लेकर जाएंगे। शर्मा ने कहा कि विपक्ष भ्रांतियां फैलानी बंद करे। संगठन सचिव अनिल ने कहा कि पीटीआई के अचयनित अभ्यर्थी अफवाह फैला रहे हैं कि पीटीआई ने गेस्ट टीचरों के खिलाफ हाईकोर्ट में चुनौती दी है अगर गेस्ट टीचर की भर्ती गलत थी तो उनकी तर्ज पर हमें भी रखा जाए। जबकि यह बिना सर पैर का सफेद झूठ है।

5 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com