• न्यूज की न्यूज डेस्क.

इस्तीफे के बाद पूर्व विधायक और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धनखड़ में हुई तकरार, जानिए क्या हुआ?

रादौर सीट से पूर्व विधायक और सीपीएस रहे श्याम सिंह राणा ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इतना ही नहीं इस्तीफे के साथ उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष धनखड़ को एक पत्र भी लिखा। कुछ समय बाद प्रदेश अध्यक्ष ने इस्तीफा मंजूर कर लिया लेकिन इसके साथ में जो जवाब लिखा उससे तकरार बढ़ गई है।

दरअसल, दिन में जब श्याम सिंह राणा ने इस्तीफा दिया तो उन्होंने उसमेंलिखा था कि - मैं श्याम सिंह राणा पूर्व विधायक रादौर आपको सूचित करता हूं कि किसानों की समस्या को ध्यान में रखते हुए मैं उनका समर्थन करता हूं और अपने सभी पदों से इस्तीफा देता हूं। पार्टी से भी इस्तीफा देता हूं।

वहीं पूर्व विधायक का इस्तीफा स्वीकार करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ओपी धनखड़ ने लिखा है कि -पार्टी किसानों के मुद्दों के सदैव साथ और मंडियों में एक-एक दाना एमएसपी पर खरीदा जाएगा। आपको पार्टी ने जिला अध्यक्ष बनाकर और चुनाव लड़वाकर मुख्य संसदीय सचिव बनाकर बहुत मान सम्मान दिया। किंतु आप चुनाव में कर्ण देव कम्बोज का साथ देने में असमर्थ रहे। आपकी व्यक्तिगत महत्वकांक्षाएं हावी रही। आपके लिए अभी यही एकमात्र रास्ता बचा था। आपका इस्तीफा स्वीकार है।

पार्टी में एकतरफ जहां नाराजगी चल रही है ऐसे में प्रदेश अध्यक्ष की तरफ से एक पूर्व विधायक को इस तरह का जवाब देना काफी नेताओं को ठीक नहीं लग रहा है। ऐसे में सूत्रों का कहना है कि कुछ अन्य पूर्व विधायक भी भाजपा के खिलाफ गुटबंदी करने में लग गए हैं।


ये है दोनों की बातचीत :

#bjp #haryanabjp #opdhankad #shyamsinghrana #latestnews #politicalnews #haryana #haryananews #newskinews

65 views