• न्यूज की न्यूज डेस्क.

बरोदा पहुंचे ओपी चौटाला से सरकार और दुष्यंत पर लगाए बड़े आरोप, जानिए क्या कहा?

इनेलो प्रमुख और पूर्व सीएम ओपी चौटाला बुधवार को बरोदा पहुंचे और वहां उन्होंने सरकार और अपने पोते दुष्यंत चौटाला पर जमकर आरोप लगाए। वहीं एलान किया कि 20 नवम्बर को कुरुक्षेत्र में विशालतम रैली करने जा रहे है। किसान बचाओ रैली से स्पष्ट हो जाएगा कि सरकार से किस तरह लोग परेशान है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा में बरोदा उपचुनाव के परिणाम से से स्पष्ट हो जाएगा कि कौन सही है और कौन गलत। ओपी चौटाला ने कहा 15 को उम्मीदवार प्रत्याशी की घोषणा व 16 को नामांकन करेंगे। उन्होंने बताया कि चुनाव में पार्टी ने मेरी भी ड्यूटी लगाई है। मैं 10 साल की कमी को पूरा करूंगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री ने सीएम विंडो की घोषणा की थी। आज सीएम की खिड़की बंद है। सीएम के कहने से किसी आम व्यक्ति का काम नही होता, मंत्री भी असंतुष्ट हैं। एक मंत्री जब बीमार थे तो मेरी उनसे मुलाकात हुई थी। मंत्री ने मुझे बताया था कि डीएसपी व एसएचओ की भी बदली सीएम करते है मुझे अधिकार नही है। ओपी चौटाला ने कहा कि पार्टी को छोड़कर जो बीजेपी में गए वो आज वापस हमारी पार्टी में आ रहे है। सत्ता का सुख भोगने जो भाजपा में गए थे उन्हें वो सुख वहां नही मिला। अभी तक भाजपा व कांग्रेस तय नही कर पाए किसे उतारे। जेजेपी का कतई दिवाला पिट गया है, जेजेपी के लोग चौधरी देवी लाल जी नीतियों का अनुसारण करने का दावा करते है। मगर देवी लाल जी के पौते गौतम को दादा मानकर चले थे, वो गौतम भी छोड़कर जा रहे है, दूसरे भी जा रहे है।

बरोदा के बाद जेजेपी के आधे विधायक पार्टी छोड़ चले जाएंगे बाकी बचे बीजेपी में मर्ज हो जाएंगे। अतीत में झांक कर देखें राजनीतिक में विघटन होते रहे है। दूसरी पार्टियों में टिकट को लेकर जूतम पैजार हो रहा है। आइएनएलडी व अकाली दल आने वाले समय मे मिलाकर चुनावी मैदान में उतरेंगे। जेजेपी के साथ आने के सवाल पर ओपी चौटाला ने कहा हमें किसी के साथ आने में आपत्ति नही है जब ये लोग छोड़कर गए तो हमने कहा था मिलाकर चलो। इक्कठे चुनाव लड़ते तो सरकार हमारी बननी थी। मैं और अजय सीएम नही बन सकते थे, अभय ने कहा था चुनाव नही लड़ूंगा। चौथी पीढ़ी के लोगो को मौका मिलना था और दुष्यंत ही सीएम बनते।

हमने अशोक अरोड़ा को सम्मान दिया था, अब वो इस प्रयास में है कि आईएनएलडी में शामिल हो जाएं।

अशोक अरोड़ा के मुझे संदेश आ रहे है, संपत सिंह व रामपाल माजरा का भी संदेश आ रहा है। जजपा के कई नेता भी वापस चाहते हैं। लेकिन हम दगाबाज और धोखेबाज लोगों को अब बर्दास्त नही करेंगे। हमारी सोच परिवार तक नही है पूरी पार्टी हमारा परिवार है। मैं आज भी राजनीति में सक्रिय हूं और आज भी आखिरी फैसला मेरी कलम से होता है। मैंने कभी पार्टी की कमान छोड़ी ही नही थी।

#opchoutala #inld #inelo #baroda #barodaelection #barodanews #eletctionnews #jjp #dushyantchoutala #diptycm #manoharlaal #cm #latestnews #newskinews



41 views