top of page
  • न्यूज की न्यूज डेस्क.

पहले से तैयारी थी, अब घोषणा भी हो गई, सीनियर आईपीएस आलोक मित्तल बने सीआईडी के एडीजीपी

हरियाणा कैडर के सीनियर आईपीएस आलोक मित्तल को सीआईडी का एडीजीपी बनाया गया है। हालांकि इसकी तैयारी पहले से ही थी, अब तो केवल ओपचारिक घोषणा कर दी गई है। क्योंकि जुलाई महीने में नेशनल इनवेस्टीगेशन एजेंसी (एनआईए) में डेपुटेशन पूरा करके वो जब लौटे तो उन्हें सीआईडी का ओएसडी नियुक्त किया गया था। अब नएए आदेश गृह विभाग के एसीएस विजय वर्धन ने जारी किए हैं।


इलाहाबाद में 1969 में पैदा हुए आलोक मित्तल ने आईआईटी रुड़की से मैकेनिकल इंजीनियरिंग, उस्मानिया यूनिवर्सिटी से पुलिस मैनेजमेंट में मास्टर डिग्री, नालसर यूनिवर्सिटी ऑफ लॉ से सायबर लॉ में पीजी डिप्लोमा भी किया है। वे 1993 में यूपीएससी की परीक्षा उतीर्ण करके आईपीएस बने थे। पुलिस में आने से पहले उन्होंने करीब साल भर तक जमशेदपुर में टाटा मोटर्स में नौकरी की थी।

उन्होंने हरियाणा कैडर ज्वाइन किया था। आईपीएस आलोक ने ही देश में सबसे पहले 2007 में फरीदाबाद में बतौर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महिला पीसीआर शुरू की थी। जब तेलगी स्टाम्प मामला हुआ था, तब आलोक सीबीआई में एसपी थे। उन्होंने ही इस मामले में बाद में आयकर विभाग को शामिल किया, ताकि तेलगी की संपत्ति और आय का आकलन विधिवत हो सके।

इसके अलावा सायबर सिक्योरिटी विशेषज्ञ रक्षित टंडन के साथ उन्होंने ही गुड़गांव में साइबर सेफ कैंपेन शुरू किया था। इसमें छात्रों, टीचर और माता-पिता को साइबर सुरक्षा से संबंधित मामलों के बारे में शिक्षित किया गया था। उन्हें राष्ट्रपति पुलिस पदक से भी नवाजा गया है।

12 views
bottom of page