• न्यूज की न्यूज डेस्क.

ये आदमी चार दिन से लापता था, इसके अपने ने इसके साथ जो किया, वो आपको हैरान कर देगा

पिछले चार दिन से लापता घी व्यापारी 52 वर्षीय रामपाल सैनी की हत्या हो गई है। बुधवार को पुलिस ने रामपाल सैनी का शव भैणी भैराे रोड पर एक जोहड़ी के गड्ढों से बरामद किया। शव को गड्‌ढे को मिट्‌टी से भरकर दफनाया गया था।

हत्या का आरोप रामपाल सैनी के ही बीए में पढ़ने वाले भतीजे अमन पर है। आरोप है कि 26 जुलाई को अमन अपने चाचा रामपाल को बहाना बना बाइक पर भैणी भैरो रोड पर ले गया था। वहां पर उसने अपने दोस्त महम के ही राहुल और पंकज के साथ मिल रामपाल की सिर में लोहे की रॉड मारकर हत्या कर दी। फिर शव को जोहड़ी के पास बने गड्ढों में दफना दिया। महम के वार्ड 5 के रहे वाले रामपाल सैनी के 26 जुलाई से लापता होने के बाद से परिवार उसकी तलाश कर रहा था। 27 जुलाई को महम थाना पुलिस ने घी व्यापारी की गुमशुदगी का केस दर्ज किया था।

केस की जांच में दौरान परिजनों से पूछताछ में सामने आया कि रामपाल सैनी की बेटी ने कुछ दिनों पहले ही लव मैरिज की है। परिवार इसके खिलाफ था। जिस युवक से विवाह किया वो रामपाल सैनी के सगे भतीजे का साला था। इसी को लेकर रामपाल ने अमन को उलाहना दिया था। इसी उलाहने की रंजिश में अमन ने पिछले कुछ दिनों से घर में प्रॉपर्टी के बंटवारे को लेकर कलह शुरू कर रखी थी। पुलिस आरोपियों को आज कोर्ट में पेश करेगी।

महम के घी व्यापारी रामपाल सैनी का परिवार शहर के संभ्रांत परिवारों में गिना जाता है। रामपाल सैनी की शहर में बरसों से घी के होलसेल व मिठाई की दो दुकानें चला रहे हैं। करीब 6 साल पहले रामपाल के बड़े भाई धर्मबीर सैनी की मौत हो गई थी। परिवार इक्ट्ठा ही रहता था। रामपाल सैनी ने ही अपने भाई के परिवार को संभाला। धर्मबीर के बेटे अमन को पढ़ाया और उसे अपने कारोबार में भी शामिल किया।

5 views