• न्यूज की न्यूज डेस्क.

हुड्डा की चाल में फंसी भाजपा, योगेश्वर की हार तय, जानिए कैसे?

बरोदा उपचुनाव में जब से पार्टियों ने उम्मीदवारों का एलान किया है तो वहां के हालात प्रतिदिन बदल रहे हैं। कभी किसी की तरफ का पलड़ा भारी हो रहा है तो कभी किसी की तरफ का। लेकिन अब जो हुआ है उसने इस उपचुनाव के नतीजे स्पष्ट कर दिए हैं।

किसी ने सही कहा है कि अनुभव को कोई मात नहीं दे सकता। कुछ ऐसा ही साबित करके दिखाया हरियाणा के पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेन्द्र सिंह हुड्डा ने। जिन्होनें एक ऐसी चाल चली कि भाजपा बरोदा उपचुनाव में वोटिंग होने से पहले हार गई है। उनकी इस चाल ने पहलवान योगेश्वर की फिर से हार तय कर दी है। दरअसल, सोमवार को पंचायती उम्मीदवार कपूर नरवाल और जोगेंद्र मोर ने अपने नामांकन वापिस ले लिए। यानी मैदान में जहां 4 बड़े जाट चेहरे थे वहीं अब दो ही बड़े जाट चेहरे रह गए हैं। जिसका सीधा फायदा कांग्रेस को मिलेगा। लेकिन इसकी पटकथा भूपेंद्र हुड्डा ने पहले ही लिख दी थी। नामांकन के अंतिम दिन से पहले वाली रात को भूपेंद्र हुड्डा कपूर नरवाल को टिकट दिलाने के लिए अड़े हुए थे। लेकिन कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने शर्त लगवा दी कि टिकट पार्टी के कार्यकर्ता को ही मिले। ऐसे में हुड्डा ने कपूर की जगह अपने ही गुट के इंदुराज नरवाल को टिकट दिलवा दी। वहीं कपूर नरवाल को पंचायती उम्मीदवार के तौर पर नामांकन के लिए इशारा कर दिया। जिससे कोई और बड़ा नेता पंचायती उम्मीदवार के तौर पर नामांकन न करके जाट वोट न काट दे। इसके लिए उन्होंने माहौल बनाने को महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू को भी वहां भेज दिया। जैसा हुड्डा चाह रहे थे वैसा ही हुआ कपूर नरवाल का बलराज कुंडू ने पंचायत की सहमति से नामांकन करवा दिया और किसी अन्य बड़े नेता ने पंचायती उम्मीदवार के तौर पर नामांकन नहीं किया। अब जैसे ही नाम वापिस लेने का समय आया तो हुड्डा ने जाकर कपूर नरवाल और जोगेंद्र मोर का नाम वापिस करवा दिया है। यानी अब मैदान में कोई बड़ा जाट चेहरा नहीं रहा। इनेलो से मलिक जरुर हैं लेकिन उनसे ज्यादा खतरा नहीं है। हुड्डा ने अपने उम्मीदवार इंदुराज नरवाल की जीत अभी से तय कर दी है और भाजपा इस खेल को समझ नहीं पाई। उन्होंने फिर से योगेश्वर पर विश्वास जता दिया। क्षेत्र में न तो लोग भाजपा से खुश हैं और न ही योगेश्वर से। अगर किसी बड़े जाट चेहरे को मैदान में लाती तो चुनाव बन सकता था लेकिन अब तो हार तय है।

#baroda #barodanews #barodaelection #electionnews #bhupenderhooda #kapoornrwal #indurajnarwal #congress #haryanacongress #bjp #bjpharyana #jogendermor #newskinews #latestnews #haryana #haryananews