• न्यूज की न्यूज डेस्क.

कर्मचारी पर चढाई कार, पीछ कर पकड़ा तो गाडी में मिली खैर

यमुनानगर कलसिया रेंज छछरौली के वनर अधिकारी सुशील कुमार की टीम ने लेदी और कोट में सुचना के आधार पर नाकाबंदी की हुई थी। इसी दौरान एक स्विफ्ट कार आई तो उन्होंने रुकने का इशारा किया, लेकिन कार चालक ने वन विभाग के कर्मचारियों के ऊपर कार चढ़ाने का प्रयास किया, जिसमें कोट के इंचार्ज रविंद्र को भी चोट आई।

वन विभाग के कर्मचारियों ने कार का पीछा कर खैर तस्करों की कार को राेक लिया, लेकिन मौका पाकर खैर तस्कर गाड़ी छोड़कर मौके से फरार हो गए। खैर से लदी कार को छछरौली कार्यालय लाया गया, जांच में कार से खैर की लकड़ी के छिले हुए 14 टुकड़े बरामद किए गए हैं, जिन पर विभागीय नंबर अंकित कर दिया है। तस्करों की पहचान जाटोवाला निवासी इस्लाम उर्फ अब्दु, जो कार चला रहा था। उसके साथ बैठे दाऊद और इरशाद निवासी जाटोवाला, मुस्तकीम निवासी कोटड़ा कानसिंग, पोल्ली निवासी जाटोवाला के रूप में पहचान की है।

ताहरपुर से कोट कि तरफ एक सफेद रंग कि कार आती दिखाई दी तो टीम ने चालक को रुकने का इशारा किया। चालक ने कार टीम के ऊपर चढ़ा दी। टीम सदस्यों ने पीछे हटकर अपनी जान बचाई। हादसे में रविंद्र सिंह कार की टक्कर लगने से घायल हो गए। कार चालक की पहचान चुहड़पुर निवासी अब्दुल इस्लाम व साथ बैठे व्यक्ति जाटांवाला निवासी इरशाद के तौर पर हुई। तस्करों ने कार को गांव कोटड़ा काहन सिंह में मुस्तकीम के घर के पास खड़ा कर दिया था।

11 views