• न्यूज की न्यूज डेस्क.

युवाओं को रोजगार के लिए 1 नवंबर से कौनसी बड़ी योजना शुरू करने जा रही है हरियाणा सरकार?

प्रदेश की नई उद्योग नीति को एमएसएमई और आत्मनिर्भर भारत अभियान पर फोकस करते हुए तैयार किया गया है। इसे हरियाणा दिवस के अवसर पर 1 नवंबर से यह लागू किया जाएगा और इसको उद्योग एवं रोजगार नीति-2020 का नाम दिया है।

सीएम मनोहर लाल ने नई उद्योग नीति को लेकर विभिन्न स्टेक होल्डर्स के साथ बैठक की। इसमें उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला भी मौजूद रहे। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा सरकार का प्रयास है कि हमारा प्रदेश समृद्ध हो और उद्योगों में प्रदेश के युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया हों। इस बारे में उद्यमियों से जब सुझाव आमंत्रित किए गए तो उन्होंने हरियाणा के युवाओं का उद्योगों में काम करने के लिए स्किल अपग्रेडेशन के साथ एप्टीट्यूड व बनाने का सुझाव दिया है। इस दिशा में बैठक में ही उपस्थित श्री विश्वकर्मा स्किल युनिवर्सिटी के वाइस चांसलर राज नेहरू को बिहेवियरल एप्टीट्यूड के लिए शॉर्ट टर्म कोर्स तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नई उद्योग तथा रोजगार नीति-2020 में हरियाणा में ज्यादा से ज्यादा निवेश लाने तथा प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने पर फोकस रहेगा।

इससे पहले उद्यमियों के साथ आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्योग के नाते हरियाणा आज भी देश में अग्रणी राज्यों में है। सरकार का लगातार प्रयास रहता है कि राज्य और समृद्ध बने। इसी दिशा में मौजूदा हरियाणा सरकार लगातार पिछले 6 वर्षों से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि सन 2014 में जब वर्तमान भाजपा सरकार ने प्रदेश की बागडोर संभाली तो ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में हरियाणा 14वें स्थान पर था। इसके बाद सरकार के प्रयासों से हरियाणा छठें स्थान पर आया और बाद में तीसरे स्थान पर भी पहुंचा। उन्होंने कहा कि इस बार कुछ प्रक्रिया से जुड़ी कमी के कारण हरियाणा रैंकिंग में थोड़ा पिछड़ गया लेकिन भविष्य में उन कमियों को दूर करके फिर से अग्रणी राज्यों में आएगा।

#cm #manoharlaal #dushyant #dushyantchoutala #diptycm #haryana #gurugram #haryananews #newskinews

38 views