• न्यूज की न्यूज डेस्क.

विधानसभा के मानसून सत्र के लिए सभी को करवाना होगा कोरोना टेस्ट, जानिए क्यों है जरूरी?

कोरोना के बाद अब प्रदेश में विधानसभा का मॉनसूत्र जल्द ही शुरू होने वाला है। कोरोना को देखते हुए जिसके लिए तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं।

विधानसभा का सत्र हरियाणा में इस बार 26 अगस्त से शुरू होने वाला है। मानसून सत्र के लिए विधायकों, मंत्रियों, अधिकारियों और पत्रकारों को सदन में प्रवेश करने से पहले कोरोना नेटेगिव की रिपोर्ट दिखानी होगी। इसके लिए स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता ने आदेश जारी कर दिये हैं। सभी विधायकों, मंत्रियों, पत्रकारों, स्टाफ को अपना कोरोना टेस्ट 24 अगस्त को करवाना होगा।

स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि मॉनसून सत्र के दौरान विधानसभा में प्रवेश करने वाले हर शख्स को 3 दिन पहले तक की कोरोना टेस्ट नेगेटिव की रिपोर्ट दिखानी जरूरी होगी। इसमें विधायक, मंत्री, स्टाफ, पुलिस कर्मचारी आदि सभी शामिल होंगे। स्पीकर ने बताया कि सभी विधायकों का टेस्ट करवाने के लिए हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सभी सीएमओ को हिदायतें जारी की जाएंगी। इस बार विधानसभा का मानसून सत्र कोरोना महामारी के दौरान हो रहा है। इसलिए विधानसभा में विधायकों के बैठने के तरीके में बदलाव किया गया है। इस बार सत्र के दौरान दर्शक दीर्घा नहीं रहेगी।

अधिकारियों को भी सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को ध्यान में रखते हुए जगह आवंटित होगी। विधानसभा में आने वाले सभी दस्तावेज को भी पूरी तरीके से टाइप नहीं किया जाएगा। बैठक में सैनिटाइजर मशीन खरीदने पर भी फैसला हुआ है। इसके अलावा विधानसभा में आने वाले सभी लोगों को मास्क, ग्लब्ज और सैनिटाइजर की एक किट दी जाएगी। विधानसभा के मानसून सत्र के लिए खरीदे जाने वाली सभी आइटम्स में एक भी चाइनीज नहीं होगा। भले ही इसके लिए कुछ चाहे ज्यादा भुगतान की करना पड़े। स्पीकर ने बताया कि विधानसभा परिसर में किसी भी तरह के प्रदर्शन पर रोक लगा दी गई है। अगर विपक्षी दल प्रदर्शन करना चाहते हैं तो वह विधानसभा से बाहर प्रदर्शन कर सकते हैं।

#corona #coronavirus #coivd #coronanews #covidnews #assembly #haryanaassembly #haryananews #latestnews #newskinews

8 views