• न्यूज की न्यूज डेस्क.

हरियाणा में ट्रैक्टर रैली के दौरान किसान की मौत पर राजनीति बढ़ी, जानिए क्या है मामला?

हरियाणा के अंबाला में कृषि बिलों के समर्थन में भाजपा नेताओं की तरफ से निकाली गई ट्रैक्टर यात्रा में किसान की मौत हो गई। जिससे वहां माहौल तनाव से भरा रहा।

दरअसल, भाजपा की इस ट्रैक्टर रैली को भारतीय किसान यूनियन ने साढ़े 3 घंटे तक हाईवे पर ही रोककर रखा था। इस दौरान भाजपा के एक नेता को दिल का दौरा पड़ गया और उसकी मौत हो गई थी। इस रैली में केंद्रीय राज्य मंत्री रतनलाल कटारिया, कुरुक्षेत्र के सांसद नायब सैनी और भाजपा नेता राजबीर बराड़ा शामिल थे और इसका भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) ने जमकर विरोध किया था। इस प्रदर्शन के दौरान शहजादपुर से भाजपा नेता भरत सिंह (72) को दिल का दौरा पड़ गया। उन्हें नागरिक अस्पताल लाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार देकर सेक्टर 32 चंडीगढ़ स्थित अस्पताल रेफर कर दिया गया, लेकिन इसी बीच उनकी मौत हो गई।

किसानों का कहना था कि यदि भाजपा नेता किसानों का साथ देना चाहते हैं, तो इस्तीफा देकर किसानों के साथ बैठें। किसानों ने भाजपा नेताओं को काले झंडे भी दिखाए। मात्र तीन ट्रैक्टरों को ही आगे जाने दिया गया, जबकि बाकी को वापस भेज दिया गया। यह रैली सैनी धर्मशाला नारायणगढ़ से चल कर शहजादपुर तक जानी थी।

भरत सिंह का पोस्टमॉर्टम करवाने सांसद नायब सैनी खुद शवगृह पहुंचे।

उन्होंने चढूनी ग्रुप, कांग्रेस और निर्मल सिंह समर्थकों पर भरत सिंह की हत्या का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि गुंडों ने लोकतंत्र की हत्या की है। किसानों के ऊपर डंडों ओर पत्थरों से हमला किया गया। सांसद ने कहा कि भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश सचिव रामबीर चौहान के साथ जो बदसलूकी की गई वह निंदनीय है। यही नहीं आरोपियों ने भाजपा के जिला सचिव जसमेर राणा को भी चोट पहुंचाई है। दूसरी ओर भरत सिंह के परिजनों ने पुलिस को शिकायत देकर चढूनी ग्रुप, कांग्रेस और निर्मल सिंह समर्थकों पर करवाई की मांग की है।

#ambala #tractorraily #bjp #bjpharyana #farmer #latestnews #haryana #haryananews #newskinews



Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com