• न्यूज की न्यूज डेस्क.

दिनभर हरियाणा में किसानों ने किया प्रदर्शन, जानिए क्या है कारण?

हरियाणा में गुरूवार को दिनभर किसानों ने जगह-जगह पर प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। किसानों के इस प्रदर्शन का कारण केंद्र सरकार के तीन अध्यादेश हैं।

दरअसल केंद्र सरकार के तीन अध्यादेशों के खिलाफ पिपली में किसानों की रैली होनी थी। इस किसान रैली के लिए प्रदेशभर से किसान जा रहे थे और इन किसानों को पुलिस जाने से रोक रही थी। जगह-जगह पुलिस उन्हें रोकती रही और किसान प्रदर्शन करते रहे। किसान बड़ी संख्या में एकजुट होकर विरोध करते रहे। किसान पीछे हटने का नाम नहीं ले रहे थे। कुरुक्षेत्र के पिपली में भी बड़ी संख्या में पुलिस तैनात रही।

महम में विधायक बलराज कुंडू ने बयान दिया है कि मैं किसानों के लिए पिपली जा रहा हूं, कोई ताकत नहीं रोक सकती। उनके घर और कुंडू फार्म पर भारी तादाद में पुलिस बल तैनात कर दी गई। सिरसा में पुलिस ने आढ़तियों और मजदूरों को नाकाबंदी करके रोका। सिरसा के आढ़तियों और मजदूरों को कुरुक्षेत्र के पिपली में महारैली में नही जाने दिया। सिरसा से किसान रैली में जाने के लिए निकले थे। पुलिस ने उन्हें वहीं रोक दिया। आढ़तियों ने गिरफ्तारी देकर रोष जताया। आढ़तियों ने हरियाणा सरकार पर तानाशाही करने का आरोप लगाया। उकलाना में आढ़ती एसोसिएशन के प्रधान धूप सिंह बॉथम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।

इन अध्यादेशों का है विरोध :  - पहले कानून के मुताबिक हर व्यापारी केवल मंडी से ही किसान की फसल खरीद सकता था। अब व्यापारी को इस कानून के तहत मंडी के बाहर से फसल खरीदने की छूट मिल जाएगी। - अनाज, दालों, खाद्य तेल, प्याज, आलू आदि को जरूरी वस्तु अधिनियम से बाहर करके इसकी स्टॉक सीमा समाप्त कर दी गई है। - सरकार कांट्रेक्ट फॉर्मिंग को बढावा देने की बात कह रही है। #farmer #police #arrest #pipli #kisanraili #haryana #haryananews #tajasamachar #latestnews #newskinews

46 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com