top of page
  • न्यूज की न्यूज डेस्क.

डिप्टी सीएम ने किस पोर्टल के बारे में कहा कि यह असंगठित श्रमिकों की जिंदगी बदल देगा

अब प्रदेश में असंगठित क्षेत्र से जुड़ा कोई भी श्रमिक सरकार की ओर मिलने वाली योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहेगा। इतना ही नहीं सरकार स्वयं कामगारों को सूचित कर घर बैठे ही उनका हक पहुंचाने का काम करेगी, बस इसके लिए असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवाना होगा।

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने पंचकुला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा लॉन्च किए गए पोर्टल के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश के असंगठित श्रमिकों के हित के लिए राज्य सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए उनके पंजीकरण के लिए एक वेब पोर्टल लॉन्च किया है। इस पोर्टल के माध्यम से जहां राज्य के असंगठित श्रमिकों का पंजीकरण करके डाटा तैयार होगा तो वहीं उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ लेने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।

डिप्टी सीएम ने कहा कि आज असंगठित श्रमिकों का डाटा न होने की वजह से उन्हें कोई भी मॉनिटर नहीं कर पाता है और वे सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते है। उन्होंने कहा कि अब इसके लिए हरियाणा सरकार ने बड़ा ऐतिहासिक कदम उठाया हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा लॉन्च किए गये इस नये वेब पोर्टल के जरिये प्रदेश भर असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों का डाटा तैयार होगा और जिससे सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में पारदर्शिता आएगी। दुष्यंत चौटाला ने बताया कि पोर्टल पर पंजीकृत होने के बाद असंगठित क्षेत्र के कामगारों को उनकी जरूरत के मुताबिक उन्हें निपुण करने, नए रोजगार के नए अवसर देने तथा अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ देने में मदद मिलेगी।

वहीं उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि इसके साथ-साथ आज हरियाणा सरकार ने एक और ऐतिहासिक कदम उठाया है। उन्होंने परिवार पहचान पत्र योजना को लेकर कहा कि यह योजना परिवारों को समृद्ध बनाने की दिशा में सार्थक व ऐतिहासिक कदम हैं और इससे सरकार की योजनाओं का प्रभावी तरीके से प्रत्येक प्रदेशवासी तक पारदर्शिता से लाभ पहुंचाने में पूरी सहायता मिलेगी।

34 views
bottom of page