• न्यूज की न्यूज डेस्क.

रजिस्ट्रियाें में घाेटालाें के आराेप पर पहली बार बोले सीएम

सीएम मनोहर लाल का कहना है कि ई-रजिस्ट्रेशन के आ रहे सकारात्मक परिणाम, एनओसी काे सरल बनाते हुए 14 दिन में बदल देंगे रजिस्ट्री की प्रक्रिया। किसी भी क्षेत्र से संबंधित रजिस्ट्रेशन प्रदेश की किसी भी तहसील से ऑनलाइन करा सकेंगे।



रजिस्ट्रियाें में घाेटाले के आराेपाें पर सीएम मनाेहर लाल ने राेहतक में सफाई दी। उन्होंने कहा कि तहसीलों में भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए 5 साल पहले ई-रजिस्ट्रेशन के तौर पर उठाए गए कदम से अब सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। अब रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया काे सुधारने के लिए इसका सरलीकरण किया जाएगा। अभी 5 से 6 विभागों की एनओसी के लिए लोगों को भटकना पड़ता है।

अर्बन लोकल बॉडी, डिस्ट्रिक्ट टाउन प्लानर, राजस्व, पंचायत विभाग, हाइकोर्ट की लिटिगेशन और फिर पुलिस पड़ताल जैसी वजहाें से एनओसी की समस्या को दूर करना समय की जरूरत बन चुकी है। अब भविष्य में ऐसी एनओसी की जरूरत नहीं पड़ेगी। 14 दिन में रजिस्ट्री की प्रक्रिया काे बदल दिया जाएगा। लोग किसी भी क्षेत्र से संबंधित रजिस्ट्रेशन प्रदेश की किसी भी तहसील से ऑनलाइन करा सकेंगे।

नए सॉफ्टवेयर से अवैध कॉलोनियों की रजिस्ट्रियां बंद हो जाएंगी करनाल में सीएम ने कहा कि साॅफ्टवेयर चेंज किया जा रहा है। इसलिए रजिस्ट्रियां बंद की हैं। नए साॅफ्टवेयर से अवैध कॉलोनियां की रजिस्ट्रियां बंद हो जाएंगी। उधर, रजिस्ट्रियों में गड़बड़ियाें को लेकर हर जिले में डीसी ने जांच शुरू कर दी है। वहीं, विपक्ष ने उच्चस्तरीय जांच की मांग की है।

9 views