• न्यूज की न्यूज डेस्क.

बिना चुनाव लड़े बरौदा उपचुनाव हारी भाजपा, जानिए कैसे?

हरियाणा में सोनीपत जिले के अंदर आने वाली बरौदा विधानसभा सीट पर उपचुनाव होने वाला है. इसको लेकर पूरे प्रदेश में माहौल पहले से ही गर्म है. चुनाव होने में अभी समय है लेकिन सभी पार्टियां अभी से जोर लगाए हुए हैं. लेकिन पिछले एक सप्ताह में ऐसा कुछ हुआ कि सत्ता में काबिज भाजपा बिना चुनाव लड़े ही उपचुनाव हार गई है. इसके कई कारण हैं, आइए आपको बताते हैं कि क्यों बिना चुनाव लड़े हार गई है भाजपा -

लाठीचार्ज : पिपली में किसानों पर हुए लाठी चार्ज के चलते किसानों में भाजपा के प्रति काफी गुस्सा है और बरौदा सीट ग्रामीण क्षेत्र वाली है जहां किसान ही ज्यादा हैं, ऐसे में भाजपा को वोट मिलना काफी मुश्किल है. सीएम की चुप्पी : किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद अब तक हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने इस मुद्दे पर कुछ भी नहीं बोला है और उनकी यह चुप्पी पार्टी को बड़ा नुकसान पहुंचा रही है. लोगों का कहना है कि अगर व्यापारियों के साथ ऐसा हुआ होता तो क्या तब भी सीएम ऐसे ही चुप रहते. सीएम की चुप्पी से ग्रामीण क्षेत्र खासकर किसानों में काफी नाराजगी है.

विज की जिद्द : एक कारण अनिल विज की जिद्द भी है. सभी ने लाठीचार्ज की जांच करने की मांग कर ली लेकिन गृह मंत्री अनिल विज हैं कि कहे जा रहे हैं कि लाठीचार्ज हुआ ही नहीं तो जांच किस बात की. लोगों का कहना है कि जो मंत्री हर बात पर जांच के आदेश दे देता था उसे ऐसा क्या हो गया कि सभी की मांग के बावजूद वो जांच नहीं करवा रहा. लोग गृह मंत्री विज को संदेह की नजर से देख रहे हैं.

कौन लड़ेगा : भले ही भाजपा जजपा कहते हों कि हम मिलकर चुनाव लड़ेंगे लेकिन अभी तक स्पष्ट नहीं है कि कौन चुनाव लड़ेगा. सूत्रों के अनुसार भाजपा किसी सुरत में जेजेपी को टिकट नहीं देगी ऐसे में जेजेपी से चुनाव में खुलकर साथ मिलने की भाजपा को उम्मीद छोड़ देनी चाहिए. साथ नहीं मिलने पर भाजपा अकेली पड़ जाएगी और अकेली भाजपा का क्या हाल होगा वो आपने अभी विधानसभा चुनाव में देखा ही होगा. दौड़ में पिछड़े : एक वजह ये भी है कि कांग्रेस और इनेलो ने बरौदा में पूरा जोर लगा रखा है. जबकि भाजपा के जिन नेताओं की ड्यूटी बरौदा में थी उनमें से कई कोरोना के चलते घरों में या अस्पताल में हैं. वैसे भी अगर जरूरत पड़ी तो पर्दे के पीछे इस बार कांग्रेस और इनेलो एक-दूसरे को समर्थन भी दे सकते हैं लेकिन भाजपा को नहीं जितने देंगे. - अंत में हम तो यही कहेंगे हे सरकार! जिद्द छोड़ो, सीएम साहब मुंह खोलो और किसानों के लिए कुछ बोलो, हे मंत्री जी आप भी जिद्द छोड़ो और जांच करवाकर दोषियों पर कार्रवाई करो. क्योंकि ऐसा नहीं किया तो बरौदा उपचुनाव तो आप बिना लड़े ही हार रहे हो.

#baroda #sonepat #haryana #cm #manoharlaal #anilvij #homeminister #dushyant #dushyantchoutala #diptycm #farmer #haryananews #politicalnews #latestnews #newskinews #tajasamachar

1,888 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com