• न्यूज की न्यूज डेस्क.

हरियाणा का बड़ा एटीएम क्लोन गिरोह पकड़ा गया, जानिए कैसे करते थे ठगी?

जींद पुलिस ने एटीएम कैबिन में मिले एक ठग के पर्स से लोगों के बैंक खाते खाली करने वाले बड़े गिरोह का पता लगाया है। पुलिस ने गिरोह के 4 सदस्यों को पकड़ा है। पुलिस को गिरोह में 10 से ज्यादा लोगों के शामिल होने की आशंका है।

पैसे निकालने वाले इस गिरोह के सदस्य वारदात को अंजाम देने केे लिए एक अगस्त को सफीदों में आए थे। इस दौरान एक एटीएम कैबिन में दिल्ली के रहने वाले सोनू का पर्स गिर गया। इस पर्स में उसकी पहचान संबंधी काफी दस्तावेज थे। यह पर्स किसी व्यक्ति ने पुलिस को दिया और बताया कि एक संदिग्ध युवक जो कि एटीएम कैबिन में घुसा हुआ था उसका है।

इस पर पुलिस ने पर्स में मिले एड्रेस से संपर्क किया और सोनू को सफीदों बुला लिया। पुलिस की पूछताछ में सोनू सफीदों आने का कोई स्पष्ट कारण नहीं बता सका। इसके बाद पुलिस ने उससे सख्ती से पूछताछ की तो लोगों के बैंक खाते खाली करने वाले इस गिरोह का पता चल गया। इसके बाद पुलिस ने एक-एक कर सोनू के 3 और साथियों को पकड़ लिया गया।

खातों से पैसे निकालने वाले गिरोह के पकड़े गए चारों सदस्य 6, 7 कक्षा तक ही पढ़े हुए हैं। ये मिलकर पिछले 5 सालों से पैसे निकालने की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। दो-तीन सदस्य एटीएम के पास रहते हैं। जब लगता है कि एटीएम से पैसे निकलवाने वाला ग्राहक भोला है। उसी समय एक या दो सदस्य कैबिन में घुसते थे। स्वाइप मशीन पास रखते थे।

दूर खड़े होकर ग्राहक जब पैसे निकालने के लिए पिन नंबर डालता है तो देख लेते थे। ग्राहक से पैसे नहीं निकल रहे या फिर वह उनके मांगने पर एटीएम दे देगा तो वे मदद के लिए कहते हैं। कार्ड हाथ में आते ही मशीन में स्वाइप कर लेते थे। बाद में क्लोन तैयार कर लेते थे। यदि ग्राहक ज्यादा ही भोला भाेला है तो फिर उसका एटीएम कार्ड भी बदल लेते हैं।


46 views