• न्यूज की न्यूज डेस्क.

विज के पास पहुंची 15 किलो की जांच रिपोर्ट, जानिए ऐसा कौनसा बड़ा मामला था

हरियाणा में लॉकडाउन के दौरान सामने आए शराब घोटाले की जांच रिपोर्ट स्पेशल इंक्वायरी टीम (एसईटी) ने तीन महीने के बाद शुक्रवार को सौंप दी गई। रिपोर्ट मिलने के बाद गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि 14-15 किलोग्राम वजनी रिपोर्ट है, उसका अध्ययन शुरू कर दिया है। अध्ययन पूरा होने के बाद इस पर क्या फैसला लिया जाएगा, इस पर भी वह जल्द फैसला ले लेंगे।


एसआईटी का चीफ हरियाणा के वरिष्ठ प्रशासनिक अफसर एसीएस (अतिरिक्त मुख्य सचिव ) टीसी गुप्ता को नियुक्त किया गया था। उनके साथ-साथ एक आईपीएस अधिकारी और एक आबकारी व कराधान विभाग के अफसरों को शामिल किया गया था। रिपोर्ट में क्या है, इसका खुलासा नहीं हो सका है। लेकिन चर्चाएं ये हो रही हैं कि इस जांच में कुछ आला अधिकारियों ने सहयोग नहीं किया। एसआईटी सोनीपत के खरखौदा में जाकर जांच कर चुकी है।

सोनीपत के खरखौदा में हरियाणा सरकार द्वारा पकड़ी गई शराब को एक गोदाम में रखा गया था। जिस गोदाम में रखा गया था, उसी गोदाम के मालिक ने पुलिस के साथ मिलकर उस गोदाम में चोरी करवाई और अवैध रूप से करोड़ों रुपये की विदेशी शराब बेच डाली। शराब घोटाला सामने आने के बाद गृह मंत्री अनिल विज के आदेश पर होम सेक्रेट्री विजय वर्धन ने पूरे राज्य में जांच के लिए सीनियर आईएएस टीसी गुप्ता की अध्यक्षता में स्पेशल इंक्वायरी टीम गठित की थी। इसमें सीनियर आईपीएस एडीजीपी सुभाष यादव को एक्साइज एंड टेक्सेशन डिपार्टमेंट के एडिशनल कमिश्नर विजय सिंह को शामिल किया गया।

12 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com