• न्यूज की न्यूज डेस्क.

रफाल की पुकार - चाइना से नहीं कूड़े और उस पर बैठने वाले पक्षियों से बचाओ

अम्बाला में एयरफोर्स स्टेशन के आसपास कूड़े के बड़े ढेर लगे हुए हैं। जिससे न केवल आसपास के लोग बल्कि अपने रफाल भी परेशान हो गए हैं। इतना ही नहीं भारतीय वायुसेना में निरीक्षण और सुरक्षा के महानिदेशक ने अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के पास स्थित इलाके में कूड़े के निस्तारण के लिए हरियाणा के मुख्य सचिव को पत्र भी लिखा है।

इस पत्र के बाद लोगों को उम्मीद है कि उनके कहने पर तो कभी कूड़े के ढेर नहीं हटे लेकिन अब हो सकता है कि रफाल के लिए ही सरकार इन ढेरों को हटवा दे। भारतीय वायुसेना ने हरियाणा सरकार से अनुरोध किया है कि वह अंबाला एयरफोर्स स्टेशन के पास स्थित इलाके में कूड़े के निस्तारण के लिए जल्द से जल्द कदम उठाए, क्योंकि उसके कारण वहां चिड़ियों का खतरा बढ़ गया है जिससे रफाल लड़ाकू विमान की सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है। 


भारतीय वायुसेना में निरीक्षण और सुरक्षा के महानिदेशक एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह ने इस संबंध में हरियाणा के मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा को पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि 29 जुलाई को अंबाला में शामिल रफाल विमानों की सुरक्षा और संरक्षा भारतीय वायुसेना का मुख्य बिंदु है। वायुसेना स्टेशन अंबाला में पक्षियों की बहुत अधिक संख्या है और टक्कर की स्थिति में वे विमान को बहुत गंभीर नुकसान पहुंचाने की क्षमता रखते हैं। हवाई क्षेत्र पर पक्षियों की गतिविधि आसपास के क्षेत्र में कचरे की उपस्थिति से संबंधित है। उसी को कम करने के लिए कई उपायों की सिफारिश की गई है और एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर फोर्स स्टेशन अंबाला ने 24 जनवरी 2019, 10 जुलाई 2019 और 24 जनवरी 2020 को आयोजित एयरोड्रम पर्यावरण प्रबंधन समिति की बैठकों के माध्यम से अंबाला के संयुक्त आयुक्त और अतिरिक्त नगर आयुक्त से मुलाकात की है।

वायुसेना ने अम्बाला एयरफील्ड के आसपास 10 किमी के एरोड्रम जोन में बड़े पक्षियों की गतिविधि को कम करने के लिए सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट योजना के तत्काल कार्यान्वयन की मांग की है। पत्र में कहा है कि इसमें कूड़ा जमा करने पर जुर्माना, कचरा संग्रहण में सुधार और हवाई क्षेत्र से उपयुक्त दूरी पर उपयुक्त सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट संयंत्र स्थापित करना शामिल होगा। इतना ही नहीं मुख्य सचिव ने भी वायुसेना के पत्र को आगे की कार्रवाई के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग को भेज दिया है। रफाल विमानों के लिए आधिकारिक आगमन समारोह इस महीने के अंत में अंबाला में आयोजित किया जाएगा जहां भारत और फ्रांस के रक्षा मंत्रियों के मौजूद रहने की उम्मीद है। शहरी स्थानीय निकाय विभाग के मंत्री अनिज विज ने कहा कि आईएएफ ने राज्य सरकार से जो भी मदद मांगी है वह पूरी तरह से मुहैया कराई जाएगी।

#rafel #fighterplane #ambala #haryana #haryananews #latestnews #army #airforce #newskinews

75 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com