• न्यूज की न्यूज डेस्क.

अकाली ने तोडा बीजेपी से वर्षों पुराना गठबंधन, क्या जेजेपी भी होगी अलग, दुष्यंत देंगे इस्तीफा?

पंजाब के अकाली दल ने बीजेपी के साथ वर्षों से चला आ रहा अपना गठबंधन तोड़ दिया है. अकाली बीजेपी के सबसे पुराने दोस्तों में से एक था. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बादल के पैर छूकर आशीर्वाद लेते थे. जब किसानों के लिए बादल परिवार ने इतना पुराना रिश्ता तोड़ दिया तो क्या हरियाणा में जेजेपी भी बीजेपी के साथ अपना नाता तोड़ देगी. हरियाणा के लोगों के मन में अब यही सवाल है कि क्या दुष्यंत भी डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा देकर बीजेपी से गठबंधन तोड़ लेंगे. आइए हम आपको बताते हैं कि क्या हो सकता है.

स्थिति में अंतर : पंजाब और हरियाणा की स्थिति में अंतर है. पंजाब में जल्द ही विधानसभा चुनाव आने वाले हैं और करीब डेढ़ साल ही शेष है. इसलिए कहा जा रहा है कि अकाली दल किसानों के वोट बटोरने के लिए बीजेपी से नाता तोड़ रहा है. जबकि हरियाणा में अभी इस तरह की कोई स्थिति नहीं हैं. हरियाणा में अभी सरकार बने एक ही साल हुआ है. इसलिए हमें लगता है कि जेजेपी स्थिति भांप कर ही निर्णय लेगी. बने रहने में फायदा : डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला पर भले ही कितना भी दबाव क्यों न बढ़े लेकिन अभी वो डिप्टी सीएम पद से इस्तीफा नहीं देने वाले हैं. अभी वो सरकार में बने रहेंगे.क्योंकि अभी उनके पार्टी में बने रहने से उन्हें और उनके कार्यकर्ताओं दोनों को ही फायदा है. क्योंकि सरकार तो अभी गिर नहीं रही ऐसे में सरकार में रहेंगे तो काम करवा पाएंगे और बाहर निकले तो शायद विधायक भी भाग जाएं. बगावत का डर : दुष्यंत चौटाला के इस्तीफा नहीं देने पर उन्हें बड़ी बगावत झेलनी पड़ सकती है.लेकिन इससे भी बड़ी बगावत का डर तब है अगर उन्होंने इस्तीफा दे दिया. क्योंकि उसके बाद उनके कई विधायक उनका साथ छोडकर भाजपा के ही साथ मिल सकते हैं. गठबंधन का दबाव कम है : अगर दुष्यंत इस्तीफा दे देंगे तो भी निर्दलियों के सहारे भाजपा सरकार चला सकती है ऐसे में उनके इस्तीफा देने से ज्यादा दबाव भाजपा पर नहीं पड़ेगा. इसलिए पार्टी के थिंक टैंक का सोचना है कि सरकार में रहकर लोगों के लिए काम करेंगे और पार्टी को भी मजबूत करेंगे. दुष्यंत खुद कर चुके स्पष्ट : वैसे भी डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला खुद ही स्पष्ट कर चुके हैं कि वो अभी इस्तीफा नहीं दे रहे हैं. उनका कहना है कि इन बिलों से किस्नाओ के एमएसपी पर कोई असर नहीं हो रहा है और जिस दिन किसानों की फसल एमएसपी पर नहीं बिकेगी वो खुद सबसे पहले आगे आकर अपना इस्तीफा दे देंगे.

#akalai #dushyant #dushyantchoutala #diptycm #haryanadiptycm #manoharlaal #cm #haryanacm #bjp #jjp #haryanabjp #politicalnews #latestnews #haryana #haryananews #newskinews #bjpjjp

549 views

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

Haryana, India

© 2023 by TheHours. Proudly created with Wix.com