• न्यूज की न्यूज डेस्क.

आशा वर्करो का 35 दिन से धरना जारी फिर भी सो रही सरकार

हरियाणा में आशा वर्करों का पिछले 35 दिनों से धरना जारी है लेकिन सरकार फिर भी सो रही है और उनकी मांगों की तरफ सरकार का कोई ध्यान ही नहीं है।

गुरूवार को भी भिवानी में सीएमओ कार्यालय पर 35वें दिन के धरना दिया। आशा वर्करो ने हरियाणा की सरकार पर आरोप लगाया कि हरियाणा सरकार का रुख बेरुखी को छोड़कर इनकी मांगो का समाधान करे। धरने की अध्यक्षता हुक्मकोर ने की संचालन जिला सचिव सुशीला ने किया। धरने को संबोधित करते हुए सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान सुखदर्शन सरोहा ने कहा कि आशा वर्करो के आंदोलन के चले महीने भर से ऊपर हो गया है मगर हरियाणा सरकार इनकी मांगो का समाधान करवाने की ओर रुख होना चाहिए मगर सरकार बेरुखी का रुख साफ झलक रहा जिसको सर्व कर्मचारी संघ बर्दास्त नही करेगा आशा वर्करो के धरना लाल झंडे के नेतृत्व में चल रहा है जिसको सर्व कर्मचारी संघ का पूरा सहयोग आशा वर्कर्स के आंदोलन की है।

हरियाणा सरकार आशा वर्करो की सुनवाई करके इनकी मांगों का समाधान करे। तकरीबन एक महीने से ज्यादा से आंदोलन में हरियाणा के हर जिले में आशा वर्कर द्वारा अपने हक और अधिकार के लिये पीएचसी वाईज धरने चल रहे है। पंचकूला सचिवालय पर प्रदर्शन कर रही आशा वर्कर्स व सैंकड़ों साथियों पर सरकार ने मुकदमें दर्ज किए है लेकिन सुनो खटर सरकार हम मुकदमों से डरकर पिछे हटने वाले नहीं है।

आशा वर्करो ने जिंदगी में एक बात बखूबी समझी है संघर्ष कभी पराजित नहीं होता अंततः संघर्ष की जीत सुनिश्चित है। आशा वर्कर्स एकता व सघर्ष के बल पर हर हाल में जितेगें। और जब तक मुख्यमंत्री से बातचीत नही होती हमारे धरने कोरोना आपदा में सावधानी के साथ जारी रहेंगे। धरने में जिला सचिव सुशीला, हुक्मकोर, आशा, दीक्षा, मोनिका प्रमिला, संतोष, उर्मिला, सुमन राकेश, सुशील, प्रियंका, प्रमिला, सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान सुखदर्शन सरोहा,आदि नेताओं ने बातचीत रखी।

#dharna #aashaworker #women #haryana #bjpgovt #bjp #haryananews #latestnews #newskinews

16 views