• न्यूज की न्यूज डेस्क.

राम मंदिर के लिए दान देना चाहते हैं NRI, मांगी इजाजत

दुनिया में 3.2 करोड़ के आसपास एनआरआई और पीआईओ हैं जिनमें ज्यादातर राम मंदिर निर्माण में अपना योगदान देना चाहते हैं. अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों ने पीएम केअर्स फंड में भी सहयोग दिया है.



अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की तैयारियां तेज हो गई हैं. दुनिया भर के देशों में मंदिर निर्माण को लेकर उत्सुकता है. दुनिया के तमाम देशों में फैले रामभक्त मंदिर निर्माण में अपनी भागीदारी निभाना चाहते हैं. इसी कड़ी में अमेरिका में भारतीयों का एक प्रमुख संगठन आगे आया है उसने मंदिर निर्माण के लिए दान देने की इच्छा जताई है. इस संगठन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग कि है वे इसकी इजाजत दें ताकि राम मंदिर निर्माण के लिए वे दान दे सकें.

अमेरिकी संस्था जयपुर फुट यूएसए के अध्यक्ष प्रेम भंडारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा, दुनिया में 3.2 करोड़ के आसपास एनआरआई (अनिवासी भारतीय) और पीआईओ (भारतीय मूल के लोग) हैं जिनमें ज्यादातर राम मंदिर निर्माण में अपना योगदान देना चाहते हैं. प्रेम भंडारी अमेरिका में कम्युनिटी एक्टिविस्ट भी हैं. भंडारी ने प्रधानमंत्री मोदी से अपील की है कि वे एक सिस्टम बनाएं ताकि जो लोग दान देना चाहते हैं वे 10 डॉलर से लेकर 100 डॉलर के बीच अपना योगदान दे सकें.

भंडारी ने कहा कि एकत्र की गई राशि श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में सीधा पहुंचा दी जाए. उन्होंने कहा, मैं रामलला का भक्त हूं, इसलिए चाहता हूं कि अयोध्या में जो भव्य मंदिर बन रहा है, उसमें मेरा भी सहयोग हो. कई ऐसे लोग हैं जो हिंदुस्तान में नहीं रहते लेकिन मंदिर निर्माण में योगदान देना चाहते हैं. कुछ ऐसा प्रावधान होना चाहिए कि एनआरआई चंदे के रूप में दान दे सकें.

2 views